www.poetrytadka.com

Patriotic Poem

This page is all about patriotic Poem in Hindi. And here read latest Desh Bhakti poem in Hindi. So go below and read Desh Bhakti poem collections.

Rashtra Geet in Hindi

भारत का राष्ट्रीय गीत

वंदे मातरम्, वंदे मातरम्!
सुजलाम्, सुफलाम्, मलयज शीतलाम्,
शस्यश्यामलाम्, मातरम्!
वंदे मातरम्!
शुभ्रज्योत्सनाम् पुलकितयामिनीम्,
फुल्लकुसुमित द्रुमदल शोभिनीम्,
सुहासिनीम् सुमधुर भाषिणीम्,
सुखदाम् वरदाम्, मातरम्!
वंदे मातरम्, वंदे मातरम्॥ 

Rashtra Geet in Hindi

Rashtra Gaan Jan Gan Man in Hindi

भारत का राष्ट्रगान
जन गण मन अधिनायक जय हे
भारत भाग्य विधाता
पंजाब सिन्ध गुजरात मराठा
द्रविड़ उत्कल बंग
विंध्य हिमाचल यमुना गंगा
उच्छल जलधि तरंग तव शुभ नामे जागे
तव शुभ आशीष मागे
गाहे तव जयगाथा।
जन गण मंगलदायक जय हे
भारत भाग्य विधाता
जय हे जय हे जय हे
जय जय जय जय हे ।।
रविंद्रनाथ टैगोर
 

Rashtra Gaan Jan Gan Man in Hindi

Sare Jahan Se Achha Hindustan Hamara

सारे जहाँ से अच्छा 
हिंदुस्तान हमारा 
हम बुलबुलें हैं उसकी 
वो गुलसिताँ हमारा। 
परबत वो सबसे ऊँचा 
हमसाया आसमाँ का 
वो संतरी हमारा 
वो पासबाँ हमारा।

गोदी में खेलती हैं 
जिसकी हज़ारों नदियाँ 
गुलशन है जिनके दम से 
रश्क-ए-जिना हमारा।

मजहब नहीं सिखाता
आपस में बैर रखना 
हिंदी हैं हम वतन है 
हिंदुस्तान हमारा।

मुहम्मद इक़बाल

Sare Jahan Se Achha Hindustan Hamara

Desh Bhakti poem in Hindi

तुझको नमन मेरे वतन
फूल हम तू है चमन 
तेरी रक्षा को करें गमन 
तुझसे ही हैं यह तन मन

आंख जो कोई उठाए 
आग दरिया में लगाएं
दुश्मन को दौड़कर भगाए 
तिरंगे को हमेशा 
चारों दिशाओं में फैलाएं

तेरी खातिर मर भी जाएं 
जान पर अपनी खेल जाएं 
तुझको नमन मेरे वतन 
फूल हम तू है चमन

Desh Bhakti poem in Hindi

Patriotic Poem in Hindi

ए मेरे वतन 
मेरी तस्वीर हो तुम 
मेरी जमीर हो तुम

ऐ मेरे वतन
मेरी तकदीर हो तुम 
विश्व के सभी देशों में 
सबसे वीर हो तुम

तू जो अनोखा सा मिला है 
हम फूल हैं 
तू गुलिस्ता सा खिला है

मेरा अक्स है तू
तू ही मेरा बिछड़ा चमन 
तुझसे ही तो गुरूर है 
तू ही मेरा सच्चा अहम
 

Patriotic Poem in Hindi
New Post Next Post